By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

गंडक नदी में उफान, उत्तर बिहार के कई जिलों में बाढ़ की नौबत

;

- sponsored -

नेपाल और बिहार में लगातार हो रही बारिश से बिहार के कई इलाकों में फिर से बाढ़ (Flood In Bihar) का खतरा मंडराने लगा है. बिहार-नेपाल सीमा पर बगहा में गंडक नदी (Gandak River) के जलस्तर में भारी वृद्धि दर्ज की गई है. गंडक में उफान के बाद उत्तर बिहार में फिर बाढ़ की स्थिति बन गई हैं.

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : नेपाल और बिहार में लगातार हो रही बारिश से बिहार के कई इलाकों में फिर से बाढ़ (Flood In Bihar) का खतरा मंडराने लगा है. बिहार-नेपाल सीमा पर बगहा में गंडक नदी (Gandak River) के जलस्तर में भारी वृद्धि दर्ज की गई है. गंडक में उफान के बाद उत्तर बिहार में फिर बाढ़ की स्थिति बन गई हैं. गंडक नदी में 3 लाख 14 हज़ार क्यूसेक का बहाव हो रहा है जो वाल्मीकिनगर बराज पर जलस्तर में वृद्धि दर्ज की गई हैं. नेपाल के तराई क्षेत्रों में बारिश के बाद इन इलाकों में फिर बाढ़ का खतरा बढ़ गया है. जलस्तर में वृद्धि के बाद बगहा, बेतिया और गोपालगंज की बड़ी आबादी  प्रभावित होगी.

मौसम विभाग के अलर्ट के बाद बढ़े गंडक नदी के जलस्तर को देखते हुए वाल्मीकिनगर गंडक बराज के साथ ही जिला प्रशासन अलर्ट मोड में आ गया है. जिला प्रशासन ने अभियन्ताओंं को 24 घण्टे तटबन्धों पर मुस्तैद रहने का निर्देश दिया है, साथ ही सभी बांधों की नियमित मॉनिटरिंग के निर्देश दिए गए हैं.नेपाल के तराई क्षेत्रों के साथ ही वाल्मीकिनगर और आसपास भारी बारिश के बाद गंडक नदी के जलस्तर में वृद्धि जारी है.वाल्मीकिनगर बराज पर गुरुवार की सुबह 5 बजे का डिस्चार्ज तीन लाख 14 हज़ार क्यूसेक दर्ज किया गया है जबकि बुधवार को जलस्तर दो लाख क्यूसेक से भी नीचे दर्ज किया गया था.

बिहार में अगले तीन दिनों तक जोरदार बारिश की संभावना जताई गई है. राज्य में सबसे ज्यादा बारिश तैयबपुर, फारबिसगंज और कटिहार में हुई है, ऐसे में नेपाल में भी हो रही बारिश ने बिहार की चिंता को और बढ़ा दिया है.

;

-sponsored-

Comments are closed.