By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बिहार के कई जिलों में भारी बारिश के आसार, ओडिशा चक्रवात का असर.

HTML Code here
;

- sponsored -

लगात हो रही इस बारिश से बाढ़ग्रस्त ईलाकों में संकट तो बढ़ा है लेकिन धान की फसल के लिए यह बारिश किसी वरदान से कम नहीं है. बारिश से अब किसानों को सिंचाई की लागत बच जाएगी. साथ ही मानसून की बारिश से धान की फसल भी अच्छी होगी.किसान खुश हैं लेकिन शहर की स्थिति नारकीय है.

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव :मंगलवार से राज्य में लगातार बारिश हो रही है और तेज हवा चल रही है.मौसम विभाग के अनुसार ओडिशा में बने चक्रवात का बिहार में असर देखने को मिल रहा है. बिहार के कई जिलों में मंगलवार को हुई तेज बारिश पटना में खराब मौसम के कारण कई विमानों को डायवर्ट करना पड़ा.मौसम विभाग के अनुसार आज भी कई जिलों में तेज बारिश के आसार बने हुए हैं.बारिश से गर्मी से राहत तो मिली है लेकिन जीवन अस्त व्यस्त हो गया है.बाढ़ प्रभावित ईलाकों में संकट और भी गहरा गया है.

मंगलवार को बक्सर, रोहतास और अरवल में भारी बारिश हुई. राजधानी में 5.6 एमएम बारिश रिकार्ड की गई. मौसम विज्ञानियों का कहना है कि चक्रवात ओडिशा से छत्तीसगढ़ होते हुए मध्यप्रदेश तक जा सकता है. वहां पर कमजोर होकर कम दबाव का क्षेत्र में तब्दील होकर समाप्त हो जाएगा. इस बीच पटना में मौसम खराब होने के कारण बेंगलुरु से पटना आ रही निजी विमानन कंपनी की एक फ्लाइट वाराणसी डायवर्ट कर दी गई.चक्रवात के कारण मंगलवार को राजधानी समेत पूरे प्रदेश में रुक-रुक कर बारिश होती रही. बारिश से राजधानीवासियों को गर्मी एवं उमस से राहत मिली। हालांकि, शहर में कीचड़ फैलने से लोगों को काफी परेशानी भी हुई.

धान की फसल के लिए यह बारिश किसी वरदान से कम नहीं है. किसान धान की फसल की सिंचाई के लिए इंतजार कर रहे थे. बारिश से अब किसानों को सिंचाई की लागत बच जाएगी. साथ ही मानसून की बारिश से धान की फसल भी अच्छी होगी. इस तरह की बारिश से धान की फसल में अच्छी वृद्धि होती है साथ ही पैदावार भी ठीक होता है.

HTML Code here
;

-sponsered-

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.