By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बिहार में प्री-मानसून की झमझम बारिश से मिली भीषण गर्मी से राहत.

HTML Code here
;

- sponsored -

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव : बिहार में मानसून के आने से पहले ही बुधवार की अहले सुबह से पटना समेत पुरे बिहार में तेज आंधी के साथ आई झमाझम बारिश ने मौसम को सुहाना बना दिया है.सुबह पांच बजे के बाद से आंधी तो थम गई है लेकिन रिमझिम बारिश का दौर जारी है.बारिश और तेज हवा की वजह से भीषण गर्मी से राहत मिली है.मौसम विभाग के अनुसार 11 जून तक बंगाल की खाड़ी में कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है. इसके कारण ओडिशा, झारखंड, पश्चिम बंगाल के कुछ हिस्सों और बिहार में तेज आंधी के साथ बारिश होगी. बिहार में मानसून की पहली बारिश 12 या 13 जून को होने की भविष्यवाणी मौसम विभाग ने की थी लेकिन 9 जून की सुबह से ही प्री-मानसून की बारिश शुरू हो गई है.

मौसम विज्ञान केंद्र की ओर से नौ जून से राज्य के अधिकतर हिस्सों में गरज तड़क के साथ बारिश का जो येलो अलर्ट जारी किया गया था वह सही साबित हुआ है.बुधवार की सुबह से ही 30 से 40 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा के साथ बारिश शुरू हो गई.कई जगहों पर आकाशीय बिजली गिरने की भी आशंका है. बिहार में मानूसन की पहली बारिश पूर्णिया में 13 जून को होती रही है, लेकिन इस बार 12 जून तक मानसून की पहली बारिश के आसार जताए जा रहे हैं.मौसम विभाग के अनुसार16 जून तक पूरे बिहार में मानसून के बादल छा जाएंगे. बिहार में मानसून झूमकर बरसेगा. हालांकि इस बार मानसून के लौटने की मानक तिथि में भी बदलाव किया गया है.

मौसम विभाग के अनुसार पटना से तीन अक्टूबर की जगह आठ अक्टूबर, गया से तीन की जगह नौ अक्टूबर और पूर्णिया से आठ की जगह 10 अक्टूबर को मानसून विदा लेगा. बता दें कि मानसून की बारिश की औपचारिक घोषणा मौसम विज्ञान केंद्र की ओर से दो दिन तक होने मानक के अनुसार वाली बारिश के आधार पर किया जाएगा.

;
HTML Code here

-sponsored-

Comments are closed.