By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

बिहार में मंकीपॉक्स का पहला केस आया सामने, पटना सिटी में मिला संदिग्ध.

HTML Code here
;

- sponsored -

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव :कोरोना के संक्रमण के बीच अब बिहार में मंकीपॉक्स जैसी खतरनाक बीमारी ने दस्तक दे दी है.अभी दो दिन पहले ही स्वास्थ्य मंत्री ने अलर्ट जारी किया था और मंगलवार को बिहार की राजधानी पटना में मंकीपॉक्स (Monkeypox In Bihar) का पहला संदिग्ध मरीज भी मिल गया.मरीज मिलने की सूचना से हड़कंप मच गया है. खबर के अनुसार पटना सिटी (Patna City) के गुरहट्टा के खत्री लेन में 40 वर्षीय महिला में मंकीपॉक्स के लक्षण (Monkeypox Symptoms) पाया गया है.

पटना के सिविल सर्जन डॉक्टर कमल किशोर राय के विशेष दिशा-निर्देश पर पीएमसीएच (PMCH) के माइक्रोबायोलॉजी विभाग की टीम के साथ डब्ल्यूएचओ और यूनिसेफ की टीम ने महिला के घर पहुंच कर जांच के लिए उनका सैंपल लिया. बताया जा रहा है कि महिला पिछले चार-पांच दिन से बीमार चल रही थी. उन्हें बुखार के साथ-साथ मांसपेशियों में दर्द के अलावा शरीर के कुछ जगहों पर लाल चकत्ते के भी निशान थे. पीएमसीएच में डॉक्टरों से चेकअप के बाद यह मामला सिविल सर्जन के पास पहुंचा है.

सिविल सर्जन कार्यालय में तैनात डॉ प्रशांत कुमार, डब्ल्यूएचओ के अधिकारी डॉक्टर कुमुद रंजन के अलावे पीएमसीएच माइक्रोबायोलॉजी विभाग की टीम के सदस्य वहां मौजूद थे., डब्ल्यूएचओ के अधिकारी मोहम्मद परवेज ने महिला का सैंपल लिए जाने की बात दोहराते हुए जांच के बाद पूरा मामला स्पष्ट होने की बात कही.गौरतलब है कि दिल्ली में मंकीपॉक्स का केस मिलने के बाद केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय की ओर से गाइडलाइन जारी किया गया है, जिसके आलोक में पटना के सिविल सर्जन डॉक्टर कमल किशोर राय ने सभी चिकित्सा पदाधिकारियों को अलर्ट जारी किया है.

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.