By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

4 माह में 24 शहरों के घर-घर तक पहुंचेगी पाइपलाइन से गैस, खुलेगें CNG के कई आउटलेट.

;

- sponsored -

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

सिटी पोस्ट लाइव :बिहार के 38 में से 24 जिला मुख्यालयों व शहरों में  जून-जुलाई तक घरेलू गैस की आपूर्ति पाइपलाइन से होने लगेगी. इंडियन आयल ने छपरा सहित नौ शहरों में इसके लिए क्षेत्रीय मुख्यालय भी खोल लिया है. छपरा क्षेत्रीय मुख्यालय के अंतर्गत मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर तथा वैशाली जिलों में हो रहे कामकाज की देखरेख की जाएगी. कंपनी के वरीय परियोजना प्रबंधक अनीश कुमार के अनुसार पाइपलाइन बिछाने का काम युद्धस्तर पर जारी है. कुछ काम अतिक्रमण के कारण अटका है.

उत्तर बिहार में छपरा व वैशाली के हाजीपुर में गैस की आपूर्ति नौबतपुर (पटना) से होगी. गंगा नदी को पार कराने के बाद डोरीगंज में टी प्वाइंट बनेगा जिससे छपरा शहर व हाजीपुर के लिए पाइपलाइन जाएगी. समस्तीपुर तथा मुजफ्फरपुर शहर को बरौनी से गैस की आपूर्ति की जाएगी. बरौनी से एनएच 28 के समानांतर दलसिंहसराय, मुसरीघरारी होते हुए पाइपलाइन बिछाने का काम अंतिम चरण में है. बरौनी से मुजफ्फरपुर तक 12 इंच मोटी स्टील की 121 किमी पाइपलाइन बिछाई जाएगी. दलसिंहसराय, समस्तीपुर तथा मुजफ्फरपुर शहर के घरों में गैस आपूर्ति के लिए सर्वे भी चल रहा है.

पाइपलाइन गैस आपूर्ति के साथ-साथ इंडियन आयल वाहनों में भरे जाने वाले CNG के आउटलेट भी खोलेगा. इसके लिए प्रथम चरण में 36 पेट्रोल पंपों को चिन्हित किया गया है. इन पेट्रोल पंपों पर CNG का एक-एक नोजल प्वाइंट खोला जाएगा. अगले तीन माह में इस योजना को अमलीजामा पहनाया जाएगा. प्रथम चरण में राष्ट्रीय राजमार्ग पर स्थित बड़े पेट्रोल पंपों का चयन किया गया है. इन पर CNG स्टेशन बिठाने का कार्य चल भी रहा है.

अनीश कुमार के अनुसार पाइपलाइन से गैस आपूर्ति योजना के लिए इंडियन आयल बिहार में 5000 करोड़ रुपये का निवेश कर रही है. इससे आमलोगों को तो सहूलियत तो होगी ही, साथ ही अप्रत्यक्ष रूप से रोजगार की संभावनाएं भी बढ़ेगी. CNG स्टेशन बिठाने से प्रदुषण से काफी हदतक मुक्ति मिलेगी.

;

-sponsored-

Comments are closed.