By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

नगर निगम के कर्मचारियों की हड़ताल से शहर का हाल नारकीय, मंडराया बीमारी का खतरा.

;

- sponsored -

[pro_ad_display_adzone id="49226"]

-sponsored-

नगर निगम के कर्मचारियों की हड़ताल से शहर का हाल नारकीय, मंडराया बीमारी का खतरा.

सिटी पोस्ट लाइव :बिहार की राजधानी का हाल पटना के नगर निगम के कर्मचारियों की हड़ताल की वजह से बेहाल है.एक तरफ जहां पटना नगर निगम (Patna Municipal Corporation) के 4300 कर्मचारी हड़ताल पर अड़े हुए हैं वहीं पटना जिला प्रशासन ने शहर की सफाई का काम अपने हाथ में ले लिया है. डीएम कुमार रवि (Kumar Ravi) ने शहर की सफाई की कमान अपने हाथ में लेते हुए कई आदेश जारी किए हैं.गौरतलब है कि पिछले तीन दिनों से निगम की हड़ताल के कारण पटना में हजारों टन कचरा जमा हो गया है.शहर में महामारी फ़ैलाने का खतरा मंडराने लगा है.

कर्मचारियों के हड़ताल के कारण पटना डीएम कुमार रवि ने नगर आयुक्त के साथ बैठक कर नगर निगम के हर अंचल में 2-2 टीम गठन का निर्देश जारी किया है. सभी टीमों के साथ पुलिस टीम रखने के निर्देश जारी करते हुए कहा कि कोई भी बाधा पहुंचाने की कोशिश करे तो सख्ती के साथ निपटा जाएगा.नगर निगम की आज हुई बोर्ड की बैठक में मेयर-डिप्टी मेयर और सभी 75 पार्षदों ने कर्मचारियों के समर्थन में उतरने का फैसला लिया है. पटना नगर निगम की मेयर सीता साहू ने बताया कि कर्मचारियों के हक के लिए निगम हाईकोर्ट जाएगा. जब तक कर्मचारियों को स्थाई करने की मांग पूरी नहीं होती, तब तक हड़ताल जारी रहेगी.

Also Read
[pro_ad_display_adzone id="49171"]

-sponsored-

इस हड़ताल की वजह से एक तरफ कचरे का उठाव नहीं हो रहा है दूसरी तरफ मरे हुए जानवर सड़क पर निगम कर्मचारियों ने फेंक कर शहर का हाल नारकीय बना दिया है.मंत्री और अधिकारी सबे घर इ बाहर कूड़े का अम्बार लग गया है.स्वास्थ्य मंत्री मंगल पाण्डेय और दुसरे सभी मंत्रियों के घर के बाहर कूड़े का पहाड़ खड़ा हो चूका है.

;

-sponsored-

Comments are closed.