By, Shrikant Pratyush
News 24X7 Hour

दिन-दहाड़े कंस्ट्रक्शन कम्पनी के मालिक को किया गोलियों से छलनी

राजद व कांग्रेस ने कहा कि शासन-प्रशासन फेल

Above Post Content

- sponsored -

लहेरियासराय : दिन-दहाड़े एनएच 57 पर गोलियों की तड़-तराहट से पूरा इलाका थर्रा गया। आज की घटना ने कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े किये हैं।

Below Featured Image

-sponsored-

#citypostlive लहेरियासराय : दिन-दहाड़े एनएच 57 पर गोलियों की तड़-तराहट से पूरा इलाका थर्रा गया। आज की घटना ने कानून व्यवस्था पर सवाल खड़े किये हैं। खासकर नया बस स्टैण्ड से लेकर रानीपुर एनएच का इलाका मौत का जोन बनता जा रहा है। इससे पहले भी तीन लोगों की दिन-दहाड़े गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। आज एनएच पर शाही कंस्ट्रक्शन के मालिक कुशेष प्रसाद शाही उर्फ गोरे को गोलियों से छलनी कर दिया गया। लगभग आधे दर्जन की संख्या में आये अपराधियों ने चारों ओर से कार को घेर कर व्यस्तम सड़क पर कम्पनी के मालिक को गोली मारी गई है। कनपट्टी से लेकर पूरे शरीर में 6 गोली लगी है। कुशेष शाही एनएचआई के साथ मिलकर सड़क निर्माण का कार्य कर रहे थे। हाल ही में उन्होंने 200 करोड़ का काम लिया था। निर्माण से जुड़े कई फैक्ट्री वे स्थापित किये हुए थे। सिर्फ रानीपुर में वे लगभग 500 लोगों को रोजगार दिये हुए हैं। जिनमे अधिकांश स्थानीय लोग हैं। जिसके चलते घटना के बाद ही वे लोग आक्रोशित हो गये और एनएच को जाम कर दिया। वैसे जिस दिन से बस स्टैण्ड वहां गया है, उसके बाद से ही वह क्षेत्र अपराधियों के रडार पर आ गया है। जहां तक अपराधिक घटना की बात हो, तो एक दिन पहले भी अल्लपट्टी में एक की गोली मार कर हत्या कर दी गई थी। छूड़ेबाजी, छिनतई, गोलियों का चालन आम बात हो गई है। हर घटना के बाद पुलिस भूमि विवाद का मामला बताकर अपना कार्य पूरा कर लेती है, लेकिन अपराध पर अंकुश नहीं लगना यह दर्शाता है कि असली अपराधी पकड़ में नहीं आते हैं। इस घटना के बाद आम लोग भयभीत नजर आ रहे हैं और अपना आक्रोश व्यक्त करने लगे हैं। घटना को लेकर कांग्रेस और राजद ने अपनी प्रतिक्रिया दी है, जिला कांग्रेस की ओर से जारी विज्ञप्ति में कहा है कि बिहार में शासन-प्रशासन पूरी तरह फेल हो गई है, जबसे नीतीश कुमार बीजेपी के साथ गये हैं, तबसे अपराधियों का मनोबल बढ़ गया है। वहीं जिला राजद की ओर से जारी विज्ञप्ति में कहा गया है कि अपराधियों के रोकने में डबल इंजन की सरकार फेल हो गई है। पूरे बिहार में अपराध का बोल-बाला है। राजद ने यह भी कहा है कि सुशासन पूरी तरह ध्वस्त हो चुका है। राजद ने मृतक के परिजनों को 50 लाख मुआवजा देने की मांग की है। इधर मृतक के भाई दीवाकर प्रसाद शाही ने सदर थाने में सीतामढ़ी के नीरज मुखिया को नामजद और कई अज्ञात के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज कराई है। जिसका कांड संख्या 489/18 है।

-sponsered-

-sponsored-

Comments are closed.